majboori meri sad shayari

गुजारिश हमारी वह मान न सके मज़बूरी हमारी वह जान न सके कहते हैं मरने के बाद भी याद रखेंगे जीते जी जो हमें पहचान न सके Jab Koi Juda Hota Hai Majboori Me Jab Koi Juda Hota Hai, Zaruri… Continue Reading